Tag Archives: #farmer

फूलों की खेती से किसान बन रहे हैं लखपति

इन दिनों उन किसानों की जिंदगियां पैसे की खुशबुओं से महमहा उठी हैं, जो फूलों की खेती से प्रति एकड़ लाख-लाख रुपए तक की कमाई कर रहे हैं। वह कोंडागांव की रेखा बाई, पद्मिनी, लच्छिनी, श्यामवती हों या मिहीपुरवा के सोमवर्धन पांडेय, ब्रह्मपुर के रामचंद्र महतो या सुखडेहरा के मिथिलेश। स्टार्टअप के तौर पर भी आज के युवाओं के लिए ...

Read More »

देशी हल में जोड़कर आधुनिक सीड ड्रिल मशीन में तब्दील

रायबरेली। बढ़ईगिरी का काम करने वाले 60 वर्षीय गंगा शंकर के पास खुद एक इंच भी जमीन नहीं है, लेकिन खेती-किसानी का शौक इस कदर है कि उन्होंने दूसरे के खेत बटाई पर ले रखे हैं और उनके खेतों में हमेशा नए-नए प्रयोग करते रहते हैं। उन्हीं प्रयोगों का नतीजा है कि उन्होंने कबाड़ में पड़े साइकिल के पहिए और ...

Read More »

अब मत्स्यपालन से होगी उत्तराखंड की आर्थिकी मजबूत

देहरादून : 17 साल का वक्फा। 11 विभागीय मत्स्य प्रक्षेत्र, राज्य मत्स्य पालक विकास अभिकरण की हैचरी एक, मत्स्य बीज (अंगुलिका) के उत्पादन को सिर्फ पांच प्रक्षेत्र। प्रतिवर्ष कुल उत्पादन करीब 4200 मीट्रिक टन और इसका मूल्य लगभग 50 करोड़। यह है उत्तराखंड में रोजगार सृजन की दिशा में अपार संभावनाएं वाले क्षेत्र मत्स्यपालन का लेखा-जोखा। आंकड़े खुद बता रहे ...

Read More »

बैलों की जगह खुद हल खींच रहे ये दंपती

भोपाल।मध्यप्रदेश में दो बेटियों को हल में जोतने का मामला सामने आने के कुछ दिन बाद ही डिंडोरी के आदिवासी दंपती की ये तस्वीर सब को झकझोर देगी। यह दंपती सात सालों से बैलों की जगह खुद को हल में जोतकर अपना पेट पालने को मजबूर है। इनकी यह स्थिति सरकारी योजनाओं में हो रहे भ्रष्टाचार का प्रतीक भी बन ...

Read More »

GMR कम्पनी ने किया फतेहपुर के किसानों को तबाह

फतेहपुर: मौसम के अच्छे संकेत से गदगद किसानों के बीच फतेहपुर जिले में रेलवे की मनमानी से किसानों के बीच तबाही मच गई हैरेल कारीडोर निर्माण में ठेकेदारों द्वारा जल निकासी में समुचित व्यवस्था नही किये जाने से दो दर्जन से अधिक गावो की करीब दस हजार बीघा खेतो में पानी भर गया धान की रोपाई कर चुके सैकड़ो किसानों ...

Read More »

उत्तराखंड में फिर एक और किसान ने की आत्महत्या

nti-news-ridden-farmer-committed-suicide-in-khatima

खटीमा: प्रदेश में कर्ज में डूबे काश्तकारों के आत्महत्या करने की कड़ी में एक और नाम जुड़ गया है। सीमांत के कंचनपुरी गांव के 45 वर्षीय काश्तकार रामअवतार पुत्र रामप्रसाद ने शनिवार की रात पेड़ पर गमछे से फंदा लगाकर जान दे दी। प्रदेश में कर्ज में डूबे काश्तकार द्वारा आत्महत्या करने का यह दूसरा मामला है। इसके बाद प्रशासनिक ...

Read More »

अंदरूनी कलह से कराह रहा देश !

nti-news-india-conflict

(मोहन भुलानी, न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया) दिल्ली से हज़ारों किलोमीटर दूर दार्जलिंग में आन-बान-शान का प्रतीक भारतीय ध्वज तिरंगा लेकर सड़कों पर निकले लोग कोई क्रिकेट मैच के बड़े प्रशंसक नहीं हैं, बल्कि उन्हें अपने लिए अलग राज्य गोरखालैंड चाहिए। जिसके लिए वो पिछले 10 सालों से यह लड़ाई लड़ रहे हैं। ये लोग अपनी-अपनी दुकानें बंद कर सड़कों पर ...

Read More »

दिल्ली में क्यों “मल” खा रहा किसान – धिक्कार है

(मोहन भुलानी ) मैं किसान हूं। पेशाब पीना मेरे लिए खराब बात नहीं है। जहर पीने से बेहतर है पेशाब पीना। जहर पी लिया तो मेरे साथ मेरा पूरा परिवार मरेगा पर पेशाब पीने से केवल आपकी संवेदनाएं मरेंगी, मेरा परिवार शायद बच जाए। कई बार लगता है आपकी संवेदनाएं मेरे लिए बहुत पहले ही मर गईं थी लेकिन कई ...

Read More »

ăn dặm kiểu NhậtResponsive WordPress Themenhà cấp 4 nông thônthời trang trẻ emgiày cao gótshop giày nữdownload wordpress pluginsmẫu biệt thự đẹpepichouseáo sơ mi nữhouse beautiful