रगड़ा बना हुआ है झगड़ा-नर्क बना पटना

पटना, पटना नगर निगम के सफाईकर्मियों की हड़ताल आज पांचवें दिन भी जारी है। राजधानी पटना की स्थिति नारकीय हो गई है, लेकिन बिहार सरकार और नगरनिगम हड़ताल कर्मियों के बीच की जिद जारी है।

इस रार के बीच एक ओर जहां नगर विरकास मंत्री ने चुप्पी साध रखी है तो वहीं हड़ताल कर्मी भी मांगे नहीं माने जाने तक काम पर नहीं लौटने की बात पर अड़े हुए हैं। पटना की सड़कों पर हजारों टन कूड़ा फैला हुआ है और आम लोगों का जीना दुश्वार होता जा रहा है। एेसे में बीमारियों के फैलने का भी डर बना हुआ है।

 

गुरुवार को हड़ताली सफाईकर्मियों ने नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा के सरकारी आवास के आगे मुख्य सड़क पर मृत कुत्ता फेंक दिया। दोपहर तक कुत्ता वहीं पड़ा रहा। पटना के अलावा राज्य के दूसरे नगर निगमों और नगर परिषदों के सफाईकर्मी भी काम ठप किए हुए हैं।

 

पटना में आउटसोर्सिंग के विरोध में 4300 नगर निगम के सफाईकर्मी तो हड़ताल पर हैं ही, आउटसोर्सिंग पर रखे गए 2200 कर्मी भी मारपीट के भय से काम नहीं कर रहे। सफाईकर्मियों का आक्रोश गुरुवार को भी खूब दिखा।

मौर्यालोक कॉम्पलेक्स में निगम मुख्यालय के सामने विरोध-प्रदर्शन जारी रहा। शहर में मुख्य सड़कों से लेकर मोहल्ले की गलियों तक गंदगी फैल गई है। कई जगह सीवर जाम है।

जंक्शन से कलेक्ट्रेट तक कूड़े का अंबार

 

पटना जंक्शन के पास कूड़े का ढेर लग गया है। जंक्शन स्थित ऑटो स्टैंड के पास कूड़े के ढेर से नागरिकों की परेशानियां बढ़ गई हैं। कलेक्ट्रेट में डीडीसी ऑफिस के बगल कचरा सड़क पर आ गया है।

नगर निगम मुख्यालय की सीढ़ी और आसपास भी कूड़े का ढेर जमा है। कंकड़बाग ऑटो स्टैंड के आसपास का हाल बेहाल है। मृत जानवरों, मछली, मुर्गा का कचरा बदबू फैला रहा है।  कुर्जी मोड़ बस स्टैंड के पास कूड़े का ढेर लग गया है।

बोरिंग कैनाल रोड सब्जी मंडी के पास कचरा जमा है। मैनपुरा मोहल्ले के अंदर कूड़े से लोग परेशान हैं। बेलीरोड में शेखपुरा मोड़ से जगदेवपथ तक कई स्थानों पर कूड़ा जमा है। एसके नगर, किदवईपुरी, मंदिरी, बुद्धाकॉलोनी, पोस्टलपार्क का हाल भी बेहाल है।

 

स्वीपिंग मशीन से सिर्फ मुख्य सड़कों की सफाई

 

शहर में कूड़े के अंबार को देखते हुए जिलाधिकारी ने फोर्स की तैनाती के बीच सड़कों की सफाई का निर्देश दिया है। गुरुवार की शाम पांच बजे से स्वीपिंग मशीन से मुख्य सड़कों की सफाई शुरू हुई।

छह मशीनों से फ्रेजररोड, डाकबंगला से न्यू सचिवालय, बोङ्क्षरग रोड, बोरिंग कैनाल रोड, राजभवन व मुख्यमंत्री आवास के आसपास के क्षेत्रों में सफाई की गई।

पटना नगर निगम की अपर नगर आयुक्त (सफाई) शीला ईरानी के साथ डीसीएलआर शशि शेखर दंडाधिकारी की भूमिका नजर आए।

फोर्स के साथ सफाई अभियान चलता। दो ग्रुप में सफाई देर रात तक जारी रही। पहले चरण में वीआइपी और महत्वपूर्ण सड़कों की सफाई की जा रही है।

 

पटना नगर निगम की अपर आयुक्त ने कहा-

 

जिलाधिकारी कुमार रवि के निर्देश पर सफाई अभियान शुरू करा दिया गया है। मुख्य सड़कों की सफाई अभी प्राथमिकता है। इसके बाद महत्वपूर्ण स्थानों पर कूड़े के ढेर की भी सफाई कराई जाएगी। इसकी तैयारी की जा रही है।

नगर विकास विभाग द्वारा नगर निकायों के दैनिक मजदूरों की सेवा आउटसोर्सिंग के तहत किए जाने का आदेश जारी किए जाने के बाद नगर निगम, नगर परिषद एवं नगर पंचायत के दैनिक मजदूरों और सफाई कर्मियों की हड़ताल गुरुवार को भी जारी रही। इससे शहरों की स्थिति नारकीय हो गई है।

 

बेगूसराय में हड़ताली कर्मियों ने नगर विकास मंत्री का अर्थी जुलूस निकाल कर पुतला दहन किया। सिवान में छह दिनों से दैनिक सफाईकर्मियों की हड़ताल के कारण नगर परिषद के सभी 38 वार्डों की सफाई प्रभावित है।

आरा में हड़ताल के कारण कूड़े का अंबार लगा है।गोपालगंज शहर कचरे से पट गया है। छपरा नगर निगम की मुख्य सड़कों की पुलिस की देखरेख में निगम के स्थायी सफाई कर्मियों से सफाई कराई गई।

दैनिक वेतनभोगी सफाई कर्मियों ने विरोध किया। पुलिस से नोकझोंक हुई जिसके बाद पुलिस ने हल्का बल प्रयोग भी किया। नालंदा में राजगीर भी कूड़े से पटा हुआ है।

 

About न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

News Trust of India न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ăn dặm kiểu NhậtResponsive WordPress Themenhà cấp 4 nông thônthời trang trẻ emgiày cao gótshop giày nữdownload wordpress pluginsmẫu biệt thự đẹpepichouseáo sơ mi nữhouse beautiful