शक्सियत

19 वर्षीय लड़के ने आविष्कार से ऐप्पल, गूगल को दी मात

सपनों का पीछा करने में कठिनाई है, लेकिन ऐसा बिलकुल ना करना सबसे बड़ी मुर्खता है। बहुत सारे सपने इसलिए बिखर जाते हैं क्योंकि लोग या तो सपनों के लिए सही समय का इंतजार करते हैं और अपने आप को साबित करने का अवसर ढूंढ़ते रहते हैं। लेकिन वहीं दूसरी तरफ सिद्धांत वत्स जैसे लोग हैं जो यह विश्वास करते ...

Read More »

एक डॉक्‍टर ऐसा भी जो है गरीबों का मसीहा डॉ थिरुवेंगदाम

डॉक्टर का पेशा एक ऐसा पेशा माना जाता है जिसमे दया सहानुभूति और किसी की समस्या को समझने और उसका निराकरण करने की शक्ति निहित होती है। लेकिन आज के दौर में डॉक्टरी का पेशा व्यवसायिकता की चरम सीमा पर पहुँच गया है। दया सहानुभूति की भावना खोने लगी है। लगभग हर डॉक्टर व्यवसायिकता की दौड़ में अपने आप को ...

Read More »

तीन बेरोजगार दोस्‍तों की दुकान, ‘मोदी पकौड़ा भंडार’, कमा रहे लाखो रुपये

देश में बेरोजगारी की बढ़ती दर ने नीति-निर्माताओं के साथ ही आमजन का जीवन मुश्किल कर रखा हैं. युवाओं को डिग्री या शिक्षा के भरोसे बैठकर इंतज़ार करने के बजाय खुद का छोटा-मोटा काम शुरू करना चाहिए. प्रधानमंत्री मोदी ने भी कहा था क‍ि अपनी जीविका चलाने के ल‍िए नौकरी करना ही एकमात्र साधन नहीं है. अगर कोई पकौड़ा बेचकर ...

Read More »

भीख मांगने वाले बच्चों के हाथ में कलम पकड़ा कर बदलाव ला रहे हैं अभिषेक !

शिकायत का हिस्सा तो हर बार बनते हैं, एक बार निवारण का हिस्सा भी बनते हैं.  यह पंक्तियाँ उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद के युवा पर सटीक बैठती हैं. इन्होने समाज में बदलाव लाने के लिए शुरुआत की न कि सरकार या प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया. अपनी टीम के जरिये छोटी-छोटी कोशिशों से गरीब एवं स्लम्स में रहने वाले बच्चों के जीवन ...

Read More »

श्रेयान चौधरी ने ट्यूमर से निपटने वाला बैक्टीरिया ढूढ़ निकाला

कोलकाता के एक रिसर्च स्कॉलर ने ट्यूमर से निपटने वाला बैक्टीरिया ढूढ़ निकाला है. यह शरीर में जाकर इसके इंसानों के रोग प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है. साथ ही कैंसर समेत बड़े ट्यूमर से निपटने में सहायक होता है. इस पीएचडी स्कॉलर का नाम श्रेयान चौधरी है. वे न्यूयॉर्क के कोलंब‌िया विश्वविद्यालय से शोध कर रहे हैं. इन्होंने ई-कोली ...

Read More »

500 रूपये किलो बिकता है नीरज ढांडा का अमरूद

अमरूद एक ऐसा फल है जो मात्र दो दिन तक ही ताज़ा रह सकता है। बासी होने पर खाना तो दूर उसे घर में रखना भी मुश्किल है। ऐसे फल को ऑनलाइन 500-600  रुपए किलो के हिसाब से बेचकर इंजीनियर से किसानी को अपनाने वाले नीरज ढांडा के बारे में आप भी जानना चाहेंगे कि यह असंभव काम उन्होंने कैसे ...

Read More »

गिरीश ने गांवों को जोड़ने के किया 127 पुलों का निर्माण

कितना महत्वपूर्ण है लोगों को बाहरी दुनिया के साथ जुड़े रहना! नहीं, हम सोशल मीडिया की आभासी दुनिया में डबल क्लिक, पोक और इनबॉक्स के बारे में बात नहीं कर रहे हैं लेकिन वास्तविक भौतिक दुनिया से सम्पर्क और संयोजन की बात कर रहे हैं। यहां तक कि 2018 में हमारे देश में बहुत से ऐसे भाग हैं जो मुख्य ...

Read More »

14 साल के इस लड़के ने डिजाईन किया एक अनोखा ड्रोन

अगर कोई यह मानता है कि हुनर का उम्र से रिश्ता होता है, तो उसे गुजरात के 14 साल के एक छात्र ने गलत साबित कर दिखाया है। उम्र के एक ऐसे पड़ाव पर जहाँ ज्यादातर बच्चे बोर्ड एग्जाम को लेकर चिंतित रहतें हैं वहीं इस बालक ने ड्रोन के प्रॉडक्शन के लिए सरकार के साथ 5 करोड़ रुपये के ...

Read More »

सेनेटरी पैड प्रदूषण का खात्मा करने वाली महिला का आविष्कार

आज हम बड़ी तेजी से तरक्की की ओर बढ़ रहे हैं और मानसिक रूप से आजाद हो रहे हैं। हमारे समाज में बहुत ही आवश्यक लेकिन शर्म का विषय समझे जाने वाले मुद्दों पर लोग आज खुलकर अपनी आवाज बुलंद करने लगे हैं। कुछ दिनों से टीवी पर अक्षय कुमार की आने वाली फ़िल्म पैडमैन का प्रोमो दिखाया जा रहा ...

Read More »

पौड़ी के बैजरो निवासी कुलभूषण बलूनी बने IIM काशीपुर के निदेशक

काशीपुर : भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) कोझिकोड के प्रभारी निदेशक के पद से स्थानांतरित होकर आए कुलभूषण बलूनी को आईआईएम काशीपुर का निदेशक नियुक्त किया गया है। संस्थान के निदेशक (इंचार्ज) प्रो केएन बादानी ने एक अधिकारिक समारोह में उन्हें कार्यभार सौंपा। मूलत: पौड़ी के ग्राम बैजरों निवासी कुलभूषण बलूनी का परिवार हिमाचल प्रदेश के शिमला में बस गया था। ...

Read More »

ăn dặm kiểu NhậtResponsive WordPress Themenhà cấp 4 nông thônthời trang trẻ emgiày cao gótshop giày nữdownload wordpress pluginsmẫu biệt thự đẹpepichouseáo sơ mi nữhouse beautiful