आरआइ के घर दोबारा होगा क्राइम सीन री-क्रियेशन

देहरादून, आरआइ डकैती कांड के अनसुलझे सवालों का जवाब तलाशने के लिए पुलिस एक बार फिर क्राइम सीन का री-क्रियेशन करने की तैयारी में है। इसके लिए पुलिस वारदात में शामिल सभी सात आरोपितों को कस्टडी रिमांड पर लेगी। इसके लिए सवालों की फेहरिस्त भी तैयार की जा रही है।

परिवहन विभाग के आरआइ के विजय पार्क स्थित घर पर 26 मई की रात सात बदमाशों ने धावा बोला था। मगर इस घटना का राजफाश तब हुआ, जब 22 सितंबर को अभिमन्यु क्रिकेट ऐकेडमी के संचालक आरपी ईश्वरन के घर पड़ी डकैती का पर्दाफाश हुआ। इस डकैती में शामिल पांच बदमाश आरआइ डकैती कांड में भी शामिल थे। वसंत विहार पुलिस ने मंगलवार को इन पांचों को भी आरआइ प्रकरण में नामजद कर लिया। एसओ वसंत विहार नत्थीलाल उनियाल ने बताया कि इस वारदात में शामिल दो बदमाशों को पहले ही कस्टडी रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा चुकी है। इसमें कुछ ऐसे सवाल उभर कर सामने आए हैं, जिनके जवाब के लिए अन्य पांचों के कस्टडी रिमांड पर लेने की तैयारी है।

दिल्ली में पुलिस ने दर्ज किए बयान

आरआइ डकैती कांड में प्रयुक्त हुई गाड़ी दिल्ली नंबर की थी। यह गाड़ी किसकी थी और गैंग के सरगना वीरेंद्र ठाकुर तक कैसे पहुंची। इस संबंध में उसके पूर्व मालिकों के पुलिस ने बयान दर्ज किए। वहीं, आरोपितों के पड़ोसियों के भी पुलिस ने बयान लिए। इसमें यह जानने की कोशिश की गई कि 26 मई को देहरादून आने से पहले और वारदात कर दिल्ली लौटने के बाद की उनकी गतिविधि क्या रही है।

मोबाइल लूट के मामले में रायपुर पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार रॉबिन नौटियाल निवासी सहस्रधारा रोड से बीते 24 नवंबर को बाइक सवार दो युवकों ने मोबाइल लूट लिया था और फरार हो गए थे। मामले में पुलिस ने प्रदुम्न उर्फ भीम थापा व मोनू उर्फ बागी निवासी जैन प्लॉट को गिरफ्तार किया है। दोनों के पास से लूटा गया मोबाइल और घटना में प्रयुक्त बाइक बरामद कर ली गई है।

जीएमएस रोड स्थित जनकपुरी इंजीनियर्स एनक्लेव में बीते नवंबर माह में हुई बीएसएनएल के डिप्टी जनरल मैनेजर के बंद घर में चोरी के आरोपितों की पुलिस ने पहचान कर ली है। पुलिस एक-दो दिन में इस घटना का पर्दाफाश कर सकती है। अवनीश कुमार शर्मा बीएसएनएल में डीजीएम के पद पर कार्यरत हैं। उन्होंने पुलिस को बताया कि बीती 21 नवंबर को उनकी पत्नी का ऑपरेशन होना था। लिहाजा सुबह के समय घर पर ताला लगाकर वह परिवार के साथ सिनर्जी अस्पताल चले गए।

(वहां से रात करीब पौने बारह बजे लौटे तो देखा कि घर के मुख्य दरवाजे के ताला टूटा हुआ था। डीजीएम के अनुसार करीब पौने चार लाख की सोने-चांदी की ज्वेलरी और करीब 1.28 लाख रुपये नकद चोरी हो चुके थे। ज्वेलरी के खाली बाक्स घर के पीछे खेत में पड़े मिले। मामले में वसंत विहार थाने में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ था।

राजपुर पुलिस ने चोरी के मामले में दो युवकों को गिरफ्तार किया है। एसओ अशोक राठौड़ ने बताया कि आरोपितों की पहचान सत्येंद्र निवासी सहस्रधारा व विशाल निवासी काठबंगला के रूप में हुई है। पूछताछ में सत्येंद्र ने बताया कि वह पूर्व में प्राइवेट बस में कंडक्टर था और उसी दौरान विशाल से दोस्ती हुई। कुछ दिन पहले दोनों क्षेत्र के एक निर्माणाधीन मकान से सरिया चोरी की थी। दोनों के पास से खुखरी भी बरामद किया है। एसओ ने बताया कि सरिया जहां से चोरी की थी, उस जगह के बारे में जानकारी की जा रही है।

About न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

News Trust of India न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ăn dặm kiểu NhậtResponsive WordPress Themenhà cấp 4 nông thônthời trang trẻ emgiày cao gótshop giày nữdownload wordpress pluginsmẫu biệt thự đẹpepichouseáo sơ mi nữhouse beautiful