हर दिन चार लोग हो रहे ऑनलाइन ठगी के शिकार

गोरखपुर, साइबर अपराधियों ने पुलिस की नींद उड़ा रखी है। रोजाना औसतन चार लोग किसी न किसी थाना क्षेत्र में ठगी के शिकार हो रहे हैं। आॅनलाइन फ्राड करने वाले अपराधी अपनी बातों से झांसे में लेकर गाढ़ी कमाई खाते से उड़ा रहे हैं। जिस रफ्तार से घटनाएं हो रही हैं, उसकी तुलना में साइबर अपराधी हत्थे नहीं चढ़ रहे।

साइबर अपराधी हाईटेक तरीके से बैंक खातों से रुपये उड़ा रहे हैं। सेना अधिकारी बन कर ओएलएक्स के माध्यम से अपराध की घटना में काफी इजाफा हुआ है। सेना अधिकारी का नाम सुनकर लोग आसानी से जाल में फंस जाते हैं। इसके अलावा पुरस्कार जीतने के नाम पर एसएमएस भेज लोगों से बैंक खाता नंबर और एटीएम पासवर्ड पूछ लेते हैं। इसके अलावा फर्जी चेक बना कर भी पैसे उड़ाए जा रहे हैं। ठगी की सूचना तब मिलती है जब बैंक एसएमएस भेज कर बताता है कि खाते से पैसे की निकासी हो चुकी है।

  • बैंक अधिकारी कभी भी फोन कर डिटेल नहीं मांगते। इसलिए फोन पर कोई भी जानकारी किसी से साझा न करें।
  • किसी भी ऐसे लिंक को क्लिक न करें जो भरोसे के लायक न हो।
  • एटीएम में कार्ड उपयोग करने से पहले कार्ड डालने वाली जगह जांच कर लें। कहीं कोई उपकरण तो नहीं लगा है।
  • गूगल में किसी वेबसाइट के कस्टमर केयर का नंबर सर्च करने से बचें। कंपनी की अधिकृत वेबसाइट से ही नंबर खोजें।
  • सेकेंड हैंड सामान खरीदने से पहले सामान की सत्यता की जांच कर लें। हो सके तो सामान नकद ही खरीदें।
  • लॉटरी और पुरस्कार के चक्कर में न आएं। यह जरूर सोचें कि मुफ्त में कोई आपको कुछ क्यों देगा।
  • 22 सितंबर : सिविल लाइंस में रहने वाले सूरज निषाद के खाते से 98720 रुपये निकाले।
  • 21 सितंबर : शाहपुर की रहने वाली महिला आशा शर्मा को झांसा देकर खाते से 10 हजार रुपये निकाल लिए।
  • 16 सितंबर : हजारीपुर के रहने वाले सुरेश जायसवाल के खाते से 15 हजार रुपये निकाले।
  • 17 जुलाई : आरपीएफ आइजी की बेटी को झांसा देकर खाते में पांच हजार रुपये ट्रांसफर कर लिया।
  • सात जुलाई : ओएलएक्स पर आइफोन बेचने का झांसा देकर युवक से खाते में 23 हजार रुपये जमा करा लिए।गोरखपुर के सहजनवां क्षेत्र स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ठर्रापार में तैनात वार्ड ब्वाय आदित्य सिंह से सोमवार को 1.20 लाख रुपये की ठगी हो गई। साइबर ठगों ने उससे मोबाइल पर एटीएम पिन पूछा और 10 मिनट के भीतर उसके खाते से रुपये निकाल लिए।

    आदित्य खोराबार के ग्राम डुमरी के निवासी हैं। पंजाब नेशनल बैंक में उनका खाता है। एक व्यक्ति ने फोन कर खुद को बैंक के मुख्यालय का कर्मचारी बताया। खाता संख्या व एटीएम पिन पूछा। कुछ देर बाद मोबाइल पर मैसेज आया तो एक लाख 20 हजार रुपये निकाले जाने की जानकारी हुई। उसने तत्काल बैंक प्रबंधक को इसकी जानकारी देने के साथ थाने में तहरीर दी।

About न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

News Trust of India न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ăn dặm kiểu NhậtResponsive WordPress Themenhà cấp 4 nông thônthời trang trẻ emgiày cao gótshop giày nữdownload wordpress pluginsmẫu biệt thự đẹpepichouseáo sơ mi nữhouse beautiful