मोस्टवांटेड बदन सिंह बद्दो की फरारी से गैंगवार की आहट

मेरठ। मोस्टवांटेड बदन सिंह बद्दो की फरारी ने जरायम की दुनिया में भी हलचल मचा दी है। मेरठ से बद्दो का फरार होना और मुजफ्फरनगर में सुशील मूंछ का आत्मसमर्पण। पपीत बढ़ला समेत कई बदमाशों का भूमिगत हो जाना कुछ सही संकेत नहीं दे रहा है। कहीं ऐसा तो नहीं, यह पश्चिमी उत्तर प्रदेश में गैंगवार की आहट है।

इसलिए आ सकती है नौबत
रोहटा ब्लॉक प्रमुख बिजेंद्र झिंजोखर जरायम जगत में चर्चित नाम रहा है। राजनीति का चोला ओढ़ने वाले बिजेंद्र वर्तमान में उप्र गन्ना सोसायटी चेयरमैन संघ के प्रदेश अध्यक्ष भी हैं। साल 2007-2008 में बिजेंद्र पर हमला हुआ था, जिसमें योगेश भदौड़ा, चीकू बढ़ला, पपीत बढ़ला, राहुल वाजिदपुर, जोनी भगवानपुर (इंचौली) व मुख्तयार अंसारी के शूटर अशोक बिहारी का नाम सामने आया था। अशोक बिहारी बनारस में हुए एनकाउंटर में मारा जा चुका है,जबकि योगेश भदौड़ा सिद्धार्थनगर जेल में है।

पेशी के दौरान हुआ था हमला
हमले के मुकदमे में जोनी जेल में सजा काट रहा है। पपीत बढ़ला व योगेश भदौड़ा को कोर्ट ने बरी कर दिया था। तीन वर्ष पूर्व बद्दो पर पेशी के दौरान हमला किया था, जिसका आरोप उधम सिंह करनावल पर लगा था। सुशील मूंछ से भी उधम सिंह दुश्मनी मानता है। बद्दो का खास सहयोगी पपीत बढ़ला ही बद्दो को होटल मुकुट महल से भगाकर ले गया है। बदला लेने के लिए बद्दो ग्रुप बिजेंद्र व उधम सिंह करनावाल के लिए खतरा बन गया है। हालांकि, उधम सिंह इलाहाबाद जेल में है।

बद्दो के पास कई फर्जी पासपोर्ट
पुलिस कस्टडी से फरार हुए बदन सिंह बद्दो का नेटवर्क दूर तक फैला है। इसके अलावा विदेशों में उसके कारोबारी रिश्ते भी हैं। जरायम की दुनिया से जुड़े बद्दो के पास कई फर्जी पासपोर्ट हो सकते हैं, यह बात पुलिस की जांच में सामने आ रही है। हालांकि,पुलिस अभी इस संबंध में पुख्ता सबूत जुटा रही है। बद्दो के पुलिस कस्टडी से फरार होने को लेकर तमाम कयास लगाए जा रहे हैं। फुलप्रूफ प्लानिंग के साथ बद्दो कस्टडी से फरार हुआ। बताया जा रहा है कि पुलिस राह में रोडा न बने, इसके लिए गाजियाबाद में पेशी की तारीख उस दिन लगवाई गई, जिस दिन मेरठ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली थी। पुलिस रैली में व्यस्त होगी और उसी दौरान वह भाग निकलेगा। बद्दो कस्टडी से फरार भी उस वक्त हुआ, जब प्रधानमंत्री की रैली अंतिम दौर में थी।

मेरठ से नहीं बद्दो का पासपोर्ट
बदन सिंह बद्दो ने मेरठ से अपना पासपोर्ट नहीं बनवाया है। पासपोर्ट कार्यालय से मंगाई गई रिपोर्ट के आधार पर यह बात सामने आई है। बद्दो ही नहीं, बल्कि उसकी पत्नी या बेटे का पासपोर्ट भी मेरठ ने बना हुआ नहीं है।

पुलिसकर्मियों की जमानत अर्जी खारिज
मोस्टवांटेड बदन सिंह बद्दो को फरार कराने के आरोप में मंगलवार को स्पेशल सीजेएम रामलाल ने जमानत अर्जी खारिज कर दी। चार अन्य आरोपितों की आत्मसमर्पण की अर्जी पर बुधवार (आज) की तारीख नियत है। अभियोजन के अनुसार,थाने उप निरीक्षक मांगेराम द्वारा 28 मार्च को रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उनका कहना था कि हत्या के मामले में सजायाफ्ता बदन सिंह उर्फ बद्दो को फतेहगढ़ सेंट्रल जेल से गाजियाबाद के एक मामले में पेश करने के लिए लाया गया था। इसके बाद बदन सिंह को मेरठ स्थित मुकुट महल होटल में रोका गया, जहां से वह फरार हो गया। सुरक्षा में दारोगा देशराज त्यागी, संतोष कुमार, सुनील कुमार, राजकुमार, ओमवीर, भूपेंद्र सिंह तैनात थे, जिन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। बद्दो के सहयोगी अहतेशाम इलाही, जवाहर लाल व शिशुपाल उर्फ बंटी को मौके से गिरफ्तार कर लिया गया था। सोमवार को पुलिस ने छह पुलिस कर्मियों समेत आठ आरोपितों पर धारा बढ़ाई थी, जबकि एक आरोपित के गैर जमानती वारंट जारी किए।

पंजाब में छिपे होने की भी चर्चा
एक तरफ बद्दो के विदेश भागने के कयास लगाए जा रहे हैं, तो दूसरी तरफ यह चर्चा भी है कि अगर बद्दो विदेश नहीं भागा है तो वह पंजाब के किसी हिस्से में छिपा है। इसी के चलते पुलिस की कई टीमों ने पंजाब में डेरा डाला हुआ है।बद्दो के विदेश भागने के संबंध में सबूत जुटाए जा रहे हैं। अभी तक ऐसा कोई सबूत हाथ नहीं लगा है। सभी बिंदुओं पर जांच जारी है।

गंभीर हो सकते हैं परिणाम
बद्दो के भागने के बाद उसके प्रतिद्वंद्वी भूमिगत हो गए हैं। चर्चा होने लगी है कि यदि पश्चिम में गैंगवार होती है तो निशाने पर प्रमुख व उधम सिंह मुख्य रूप से होंगे। जल्द बद्दो व पपीत बढ़ला की गिरफ्तारी नहीं हुई तो इसके दूरगामी परिणाम बेहद गंभीर हो सकते हैं।

About न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

News Trust of India न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ăn dặm kiểu NhậtResponsive WordPress Themenhà cấp 4 nông thônthời trang trẻ emgiày cao gótshop giày nữdownload wordpress pluginsmẫu biệt thự đẹpepichouseáo sơ mi nữhouse beautiful