गौचर मेले को मिलेगा बहुआयामी अंदाज

चमोली  : गौचर का प्रसिद्व राज्य स्तरीय मेला इस बार बहुआयामी अंदाज में देखने को मिलेगा। मेले में उत्तराखण्ड की लोक संस्कृतिक की आकर्षक झलक के साथ राष्ट्रीय स्तर के कई नए कार्यक्रम भी शामिल किए जाएंगे। जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने मंगलवार को अपने कार्यालय कक्ष में संबधित अधिकारियों से मेले में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों पर गहनता से चर्चा की। उन्होंने कहा कि कार्यक्रमों को अंतिम रूप देकर जल्द मेले का ब्राउसर तैयार किया जाएगा। बता दें कि सात दिवसीय औद्योगित विकास एवं सांस्कृतिक गौचर मेला 14 नवंबर से शुरू होगा।

जिलाधिकारी ने कहा कि इस बार मेले में आर्कषक व भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम शामिल किए जाएंगे। इसके लिए राष्ट्रीय स्तर के कलाकारों को आमंत्रित किया जा रहा है। हर दिन और संध्या को आकर्षक व मनोरंजक बनाने के लिए प्रत्येक दिन अलग तरह के कार्यक्रम आयोजित होंगे।
सांस्कृतिक संध्या पर राष्ट्रीय स्तर के फोक सांग, बैलून डाॅस, बाॅलीहुड नाइट, सरकस नाइट, कब्बाली, कवि सम्मेलन, सालसा, केबीसी आदि कार्यक्रम शामिल किए जाएंगे। इसके अलावा मेले में फन गेम्स, मैजिक शो सहित वन टाइम एक्टिविटी वाले गेम्स को शामिल किया जाएगा। मेले में फूड फेस्टिवल, फिल्म फेस्टिवल, बच्चों के फन गेम्स व सेल्फी प्वांइट भी रहेगे।
जिलाधिकारी ने कहा कि उच्च स्तरीय सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अलावा इस बार मेले में एडवेंचर स्पोटर्स के तहत हाॅट बैलून व राफ्टिंग प्रतियोगिता भी आयोजित की जाएगी। खेलकूद प्रतियोगिता में बाॅलीबाल, फुटवाल व एथलीट प्रतियोगिता के अतिरिक्त कुश्ती भी रखी गई है। प्रदेश से हो रहे पलायन पर लोगों को जागरूक करने के लिए स्कूली बच्चों की पलायन विषय पर वाद-विवाद प्रतियोगिता भी आयोजित की जाएगी।
मेले में रोचकता बनी रहे इसके लिए प्रोफेशनल कलाकारों के माध्यम से काॅमेडी शो एवं आईटीबीपी के माध्यम से सूटिंग गेम्स व राॅक क्लाइमिंग का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि स्थानीय कलाकारों को भी मेले में अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए पूरा अवसर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मेले के इतिहास के बारे में लोगों को सूक्ष्म फिल्म एवं फोटो गैलरी के माध्यम से भी जानकारी दी जाएगी।
इस दौरान जिलाधिकारी ने मेले के मुख्य पंडाल की व्यवस्थाओं, मेले के प्रचार प्रसार के लिए ब्राउसर, होर्डिग्स, पम्पलेट, बैनर, पोस्टर प्रकाशित कराने तथा मेले के आयोजन के लिए आवश्यक संशाधन व सामग्री लेने के लिए आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।
उन्होंने कहा कि गौचर मेला एक ऐतिहासिक राज्य स्तरीय मेला है। इसमें सभी का सहयोग अपेक्षित है। उन्होंने मेलाधिकारी/एसडीएम कर्णप्रयाग को एनटीपीसी, पिटकुल, एनएचआईडीसीएल, गेल इडियां, हंस फाउडेशन, ओएनजीसी सहित जनपद में संचालित सभी जल विद्युत परियोजनाओं, रेलवे, टैक्सी यूनियन, बैकर्स आदि सभी से सहयोग लेने को कहा।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी हंसादत्त पांडे, अपर जिलाधिकारी एमएस बर्निया, एसडीएम देवानंद शर्मा, एसडीएम बुशरा अंसारी, टीओ दीपक चन्द्र भट्ट, जिला पर्यटन विकास अधिकारी बृजेन्द्र पांडे आदि मौजूद थे।

About न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

News Trust of India न्यूज़ ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ăn dặm kiểu NhậtResponsive WordPress Themenhà cấp 4 nông thônthời trang trẻ emgiày cao gótshop giày nữdownload wordpress pluginsmẫu biệt thự đẹpepichouseáo sơ mi nữhouse beautiful